Breaking News
Home 25 उत्तर प्रदेश 25 लखनऊ / सरकार की कड़ी मेहनत का परिणाम सामने आ रहा है, मेधावी सम्मान समारोह में आदित्यनाथ ने कहा!

लखनऊ / सरकार की कड़ी मेहनत का परिणाम सामने आ रहा है, मेधावी सम्मान समारोह में आदित्यनाथ ने कहा!

Spread the love

इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में आयोजित हुआ कार्यक्रम 

इस आयोजन में कई नेता और मंत्री हुए शरीक

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को कहा कि दुनिया में सबसे युवा देश भारत है और देश में सबसे युवा राज्य उत्तर प्रदश है। योगी ने कहा कि जब मैं मुख्यमंत्री बना तब प्रदेश की कानून व्यवस्था बहुत खराब थी। शिक्षा व्यवस्था भी ठीक नहीं थी। उसके बाद हमने मेहनत करना शुरू किया और अब इसका परिणाम भी सामने आ रहा है।

इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में आयोजित एक कार्यक्रम में माध्यमिक शिक्षा परिषद की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट परीक्षा-2019 में प्रदेश स्तर पर प्रथम दस स्थान प्राप्त करने और जिलों में प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले मेधावियों को सम्मानित किया गया। 

कार्यक्रम में उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा, गन्ना मंत्री सुरेश राणा, जलशक्ति मंत्री डॉ. महेन्द्र सिंह, ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा, विधि एवं न्याय मंत्री ब्रजेश पाठक, नगर विकास मंत्री आशुतोष टंडन, माध्यमिक शिक्षा राज्यमंत्री गुलाब देवी सहित अन्य लोग शामिल हुए। 

मेधावी छात्र सम्मान समारोह में विद्यार्थियों ने अपनी सफलता के अनुभव शेयर किए। कार्यक्रम में उन्होंने माता-पिता से अनुरोध किया कि वे छात्र-छात्राओं पर उम्मीदों का बोझ न डालें। बच्चे को तय करने दें कि वह क्या बनाना चाहता है। शिक्षकों से अनुशासित होने का आग्रह किया। 

सीएम योगी ने कहा कि हर क्षेत्र में सुधार लाया गया। उसी का नतीजा है कि अब शिक्षा का पूरा टाइम टेबल बनाया गया है। अब एक महीने में परीक्षा हो जाती है और पंद्रह दिनों में परिणाम आ जाते हैं। जबकि पहले जनवरी फरवरी से प्रक्रिया शुरू होती थी और जुलाई तक चलती रहती थी।

सीएम योगी ने कहा कि इसी तरह हमने अन्य क्षेत्रों में भी सुधार किए हैं। इसमें उच्च शिक्षा, मेडिकल शिक्षा, टकनीकी शिक्षा आदि शामिल हैं। मेधावियों को अच्छे अंक मिले हैं, उनको बधाई। लेकिन मैं उनसे कहना चाहूंगा कि अभिमान करने से बचे। जबकि कम अंक पाने वाले छात्र निराश न हों। बल्कि मेहनत करना बंद न करें। मेरा पूरा भरोसा है उन्हें एक दिन जरूर कामयाबी मिलेगी। 

उन्होंने बताया कि हमने गरीब छात्रों को न केवल छात्रवृति देने का प्रबंध किया बल्कि उसे समय पर उपलब्ध भी कराया ताकि उन्हें उसका लाभ मिल सके।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*