Breaking News
Home 25 खबरें 25 प्रदूषण / ऑड-ईवन का आज आखिरी दिन, प्रदूषण गंभीर स्थिति में; एक्यूआई 700 के पार पहुंचा

प्रदूषण / ऑड-ईवन का आज आखिरी दिन, प्रदूषण गंभीर स्थिति में; एक्यूआई 700 के पार पहुंचा

Spread the love

नई दिल्ली. दिल्ली-एनसीआर के कई इलाकों में शुक्रवार सुबह हवा की गुणवत्ता गंभीर स्तर पर पहुंच गई। ज्यादातर इलाकों में एयर क्वालिटी इंडेक्स (एक्यूआई) 700 के ऊपर दर्ज हुआ। इसे वायु प्रदूषण की गंभीर स्थिति है। दिल्ली में गुरुवार को एक्यूआई 472 था। दिल्ली, नोएडा और गाजियाबाद के स्कूलों में 14 और 15 नवंबर को छुट्टी घोषित की गई थी। प्रदूषण से निपटने के लिए केजरीवाल सरकार ने 4 नवंबर को ऑड-ईवन फॉर्मूला लागू किया था, आज इसका आखिरी दिन है।

प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के आंकड़ों के मुताबिक, सुबह दिल्ली के लोधी रोड इलाके में प्रदूषक कण पीएम2.5 और पीएम10 का स्तर 501 से ज्यादा है। इसी तरह आईटीओ इलाके में भी पीएम2.5 का स्तर 490 दर्ज हुआ। लोधी गार्डन और एम्स के आसपास धुंध और स्मॉग के बीच लोग मॉर्निंग वॉक करते नजर आए।

शहर 15 नवंबर (एक्यूआई) 14 नवंबर (एक्यूआई)
दिल्ली 712 472
नोएडा 650 488
गाजियाबाद 592 486
गुड़गांव 799 412
फरीदाबाद 554 437

ऑड-ईवन 4 से 15 नवंबर तक लागू हुआ

राजधानी में 4 से 15 नवंबर तक ऑड-ईवन लागू हुआ था। सुप्रीम कोर्ट में इस पर सुनवाई के चलते केजरीवाल सरकार फिलहाल इसे आगे बढ़ाने पर फैसला नहीं ले पाई है। हालांकि, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि जरूरत पड़ने पर ऑड-ईवन को सीमा बढ़ाई जाएगी। अदालत ने सरकार से ऑड-ईवन को लेकर जानकारी मांगी थी।

एयर क्वालिटी इंडेक्स के मानक

एयर क्वालिटी इंडेक्स (एक्यूआई) को 0-50 के बीच ‘बेहतर’, 51-100 के बीच ‘संतोषजनक’, 101 से 200 के बीच ‘सामान्य’, 201 से 300 के बीच ‘खराब’, 301 से 400 के बीच ‘बहुत खराब’ और 401 से 500 के बीच ‘गंभीर’ माना जाता है। वहीं, हवा में पीएम 10 का स्तर 100 और पीएम 2.5 60 माइक्रोग्राम प्रतिघन मीटर से ज्यादा नहीं होनी चाहिए।

400 एक्यूआई में ऑक्सीजन कम हो जाती है

दिल्ली स्कूल हेल्थ स्कीम के ईस्ट डिस्ट्रिक्ट इंचार्ज डॉक्टर अनूपनाथ के मुताबिक, वायु प्रदूषण के कारण वरिष्ठ नागरिकों को सबसे ज्यादा दिक्कतें होती हैं। प्रदूषण का जो स्तर है, इसमें ऑक्सीजन की कमी होती है। धीरे-धीरे इंफेक्शन, ब्रॉनकाइटिस की बीमारी बढ़ जाती है। आंख की जलन स्मॉग के कारण बढ़ती है।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*