Breaking News
Home 25 खबरें 25 द्विपक्षीय संबंध / जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल दो दिनों के भारत दौरे पर हैं। इस दौरान नरेंद्र मोदी उनसे मिलने पहुंचे।

द्विपक्षीय संबंध / जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल दो दिनों के भारत दौरे पर हैं। इस दौरान नरेंद्र मोदी उनसे मिलने पहुंचे।

Spread the love

जर्मन चांसलर मोदी के साथ पांचवी इंटर-गवर्मेंटल मीटिंग में हिस्सा लेंगी, इसके बाद दोनों बयान जारी करेंगे

मर्केल गुरुवार देर रात दिल्ली पहुंची, पीएमओ में मंत्री जितेंद्र सिंह ने स्वागत किया 

नई दिल्ली. राष्ट्रपति भवन में शुक्रवार को उनका औपचारिक स्वागत हुआ। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद उनसे मिलने पहुंचे। मर्केल राजघाट में महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि देने भी पहुंचीं। यहां उन्होंने भारत-जर्मनी संबंधों की अहमियत पर कहा कि दोनों देशों के बीच काफी करीबी रिश्ता है। हमारे मन में इस देश की विभिन्नता के प्रति गहरा सम्मान है। 

मोदी-मर्केल के बीच 20 समझौतों पर हस्ताक्षर हो सकते हैं

इससे पहले मर्केल गुरुवार देर रात ही दिल्ली पहुंचीं। केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने उनका और जर्मन डेलिगेशन का स्वागत किया। विदेश मंत्रालय के मुताबिक, प्रधानमंत्री मोदी और मर्केल की मुलाकात पांचवें इंटर-गवर्मेंटल कंसल्टेशन (आईजीसी) कार्यक्रम के दौरान होगी। इसके बाद दोनों साथ में बयान जारी करेंगे। माना जा रहा है कि दोनों नेता अलग-अलग क्षेत्रों में सहयोग के लिए 20 समझौतों पर हस्ताक्षर करेंगे। 

ऑटोमोटिव कंपनी का दौरा करने गुड़गांव जाएंगी मर्केल

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार के मुताबिक, मोदी और मर्केल के बीच यह एक साल में पांचवीं मुलाकात होगी। आईजीसी के दौरान दोनों पारंपरिक सेक्टरों (ऊर्जा, कौशल विकास और परिवहन) में सहयोग पर चर्चा करेंगे। इसके अलावा आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और नवीकरणीय ऊर्जा भी चर्चा का विषय होंगे। मर्केल शनिवार को भारत और जर्मनी के बिजनेस डेलिगेशन के बीच मीटिंग का हिस्सा होंगी। इसके अलावा वे हरियाणा के गुड़गांव स्थित मानेसर में कॉन्टिनेंटल ऑटोमोटिव कम्पोनेंट्स प्राइवेट लिमिटेड का भी दौरा करेंगी। जर्मनी लौटने से पहले मर्केल दिल्ली के द्वारका सेक्टर 21 मेट्रो स्टेशन जाएंगी।

मर्केल को राष्ट्रगान के दौरान खड़े होने से छूट
हाल ही में जर्मन सरकार ने भारत से अपील की थी कि मर्केल को मेडिकल कारणों से राष्ट्रगान के दौरान खड़े होने से छूट दी जाए। पिछले कुछ कार्यक्रमों में मर्केल को सपोर्ट के बिना खड़े होने में दिक्कत का सामना करते देखा गया। इसी को लेकर उनके कार्यालय ने छूट की अपील की। इस पर भारत सरकार ने सहमति जता दी है। यानी मर्केल को राष्ट्रगान में खड़े होने के प्रावधानों से छूट दी जाएगी। 

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*