Breaking News
Home 25 खबरें 25 अमेरिकी विदेश मंत्री पोम्पियो की PM मोदी और जयशंकर से मुलाकात, रूस से मिसाइल सौदे पर चर्चा संभव || WI NEWS

अमेरिकी विदेश मंत्री पोम्पियो की PM मोदी और जयशंकर से मुलाकात, रूस से मिसाइल सौदे पर चर्चा संभव || WI NEWS

Spread the love

भारत-अमेरिका के बीच ट्रेड वॉर खत्म करने को लेकर भी बातचीत हो सकती है28-29 जून को जापान में जी-20 शिखर वार्ता के इतर ट्रम्प और मोदी के बीच मुलाकात भी होगी

नई दिल्ली. अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो दो दिन के भारत दौरे पर हैं। बुधवार को उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, विदेश मंत्री एस जयशंकर से मुलाकात की। पोम्पियो जापान में होने वाली जी-20 शिखर वार्ता से पहले भारत आए हैं। 28-29 जून को मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के बीच बैठक भी होनी है। इस लिहाज से पोम्पियो का दौरा काफी अहम माना जा रहा है। 

न्यूज एजेंसी के सूत्रों के मुताबिक, पोम्पियो राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल से भी मिले। दोनों के बीच आतंकवाद और राष्ट्रीय सुरक्षा समेत कई मुद्दों पर चर्चा हुई। अमेरिकी विदेश मंत्री एच1-बी वीजा, रूस से भारत के एस-400 मिसाइल सौदे समेत दोनों देशों के बीच ट्रेड वॉर को लेकर बातचीत कर सकते हैं।

भारत को रूस के साथ एस-400 मिसाइल समेत अन्य हथियार सौदों के मामले में अमेरिका से राहत मिल सकती है। अमेरिका जानता है कि भारत और रूस के संबंध पुराने हैं, जिन्हें खत्म नहीं किया जा सकता। अमेरिका एस-400 मिसाइल सौदे पर पहले नाराजगी जाहिर कर चुका है।

जी-20 शिखर सम्मेलन में होगी मोदी-ट्रम्प की मुलाकात

पोम्पियो भारत यात्रा के दौरान जयशंकर के साथ जापान के ओसाका में मोदी और ट्रम्प के बीच होने वाली द्विपक्षीय मुलाकात के एजेंडे को अंतिम रूप देंगे। मोदी और ट्रम्प 28-29 जून को जी-20 शिखर सम्मेलन में शामिल होने के लिए जापान के ओसाका जाएंगे। इस दौरान जयशंकर और पोम्पिओ भी बैठक में मौजूद रहेंगे।

जयशंकर और पोम्पियो के बीच पहली मुलाकात

राजनयिक सूत्रों के मुताबिक, जयशंकर पहली बार पोम्पिओ से मिलेंगे। इस दौरान ईरान और अमेरिकी के बीच चल रहे तनाव को लेकर भी बातचीत हो सकती है। इससे पहले एस जयशंकर ने कहा था कि हमारी मुलाकात सकारात्मक रूख के साथ होने जा रही है। हम व्यापार के मुद्दों पर चर्चा करेंगे और हित के बिंदुओं को तलाशने का प्रयास करेंगे।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*